जलभराव से परेशान लोगों ने मेरठ रोड पर लगाया जाम

drru

मेरठ रोड पर मेरठ से गाजियाबाद की ओर आने वाले रास्ते पर जाम लगाकर लोगों ने महापौर आशा शर्मा, स्थानीय पार्षद संघदीप तोमर और नगर निगम के खिलाफ नारेबाजी कर समस्या का समाधान करने की मांग की। इस दौरान रोड पर जाम लग गया, वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा। शहर में जलभराव की समस्या को लेकर बृहस्पतिवार दोपहर में पटेल नगर और वाल्मीकि कुंज के लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। 

बुधवार को नाले की दीवार गिर गयी, जिस कारण पटेल नगर और वाल्मीकि कुंज में अधिक जलभराव हुआ। लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। बृहस्पतिवार तक भी सड़कों पर पानी भरा रहा, जिस कारण लोगों को आवागमन में मुश्किल हो रही थी। ऐसे में समस्या के निजात की मांग को लेकर लोगों ने मेरठ रोड पर जाम लगा दिया। मेरठ से नोएडा और दिल्ली की ओर आने वालों को परेशानी हुई। सूचना पर एसएचओ सिहानी गेट मिथिलेश उपाध्याय और चीफ इंजीनियर एनके चौधरी भी मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाकर जाम खुलवाया। करना पड़ा डायवर्जन: मेरठ रोड पर पांच नंबर भट्ठा के पास से मेरठ मोड़ तक दो साल पहले छह करोड़ रुपये की लागत से नाला बनवाया गया था। इस नाले में कई सोसायटियों और कालोनियों का पानी आता है। आरोप है कि नाले की चौड़ाई कम होने के कारण नाला निर्माण के बाद भी जलभराव की समस्या का समाधान नही हो सका। नाले का पानी ओवरफ्लो होकर लोगों के घरों में घुसता है।

संघदीप तोमर, स्थानीय पार्षद। बयान पटेल नगर, वाल्मीकि कुंज सहित अन्य कालोनियों में जलभराव की समस्या के समाधान के लिए जल्द ही उचित इंतजाम किए जाएंगे। जिससे दोबारा ऐसी परेशानी न हो। - एनके चौधरी, मुख्य अभियंता, नगर निगम स्थानीय लोगों द्वारा जाम लगाए जाने के कारण मेरठ रोड पर वाहनों की लंबी कतार लग गई। पुलिस ने मेरठ से गाजियाबाद की ओर आने वाले वाहनों को डायवर्जन कर एएलटी फ्लाईओवर और राजनगर एक्सटेंशन के रास्ते आगे भेजा। बयान स्थानीय लोगों की समस्या के समाधान के लिए नगर निगम के अधिकारियों को कई बार अवगत कराया गया लेकिन कार्रवाई नहीं की गई। 

Post a Comment

From around the web