Gorakhpur सीएम योगी के संसदीय क्षेत्र गोरखपुर में एक करोड़ की फिरौती के लिए छात्र की हत्या

s

गोरखपुर के पिपराइच के जंगल छत्रधारी गांव से एक करोड़ रुपये की फिरौती के लिए पांचवीं के छात्र बलराम की अपहरण के बाद हत्‍या कर दी गई है। संदेह के आधार पर उठाए गए दो युवकों की निशानदेही पर पुलिस ने किराना व्यापारी के बेटे बलराम की लाश को सोमवार की शाम जंगल के किनारे एक बोरे से बरामद किया। 

पिपराइच थाना क्षेत्र स्थित जंगल छत्रधारी के मिश्रौलिया टोला निवासी महाजन गुप्ता घर में ही किराना की दुकान चलाते हैं और जमीन के कारोबार से जुड़े हैं। पांचवीं में पढ़ने वाला उनका बेटा बलराम रविवार की दोपहर में 12 बजे घर से खेलने जाने को कहकर निकला था। इसके बाद उसका अपरहण हो गया। बलराम के घर वालों के पास रविवार को अलग-अलग समय पर तीन फोन कॉल आई। फोन करने वालों ने एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगी। पहले तो महाजन ने इसे किसी की शरारत समझी लेकिन देर शाम तक बच्चे का कुछ पता नहीं चला तो उन्होंने पुलिस को सूचना दे दी। बालक के अपहरण और एक करोड़ रुपये फिरौती मांगे जाने की सूचना ने पुलिस के होश उड़ा दिए। एसएसपी ने इस मामले में एसटीएफ और क्राइम ब्रांच को लगा दिया।
 

एसटीएफ व क्राइम ब्रांच के साथ ही पिपराइच थाने की पुलिस हरकत में आ गई। पुलिस टीमों ने संदेह के आधार जंगल धूसड़ इलाके से एक मुर्गा कारोबारी, मोबाइल सिम बेचने वाले एक दुकानदार और एक प्रॉपर्टी डीलर को हिरासत में ले लिया। पुलिस ने उनसे कड़ाई से पूछताछ शुरू की। रविवार की ही रात 9 बजे बलराम के घर पर अपहर्ताओं की एक और कॉल आयी थी। तब अपहर्ताओं ने कहा था कि कुछ भी रकम मिल जाए तो वे बच्चे को मुक्त कर देंगे। महाजन गुप्ता ने 20 लाख रुपये तक की फिरौती देने की हामी भर दी। इधर, पुलिस ने हिरासत में लिए गए लोगों से कड़ाई से पूछताछ की तो सोमवार की दोपहर उनमें से दो टूट गए और उन्होंने बताया कि बच्चे की हत्या कर दी गई है। उनकी निशानदेही पर पुलिस ने जंगल तिनकोनिया में नाले के किनारे बोरे में भरकर फेंकी गई लाश बरामद कर ली। 

Post a Comment

From around the web