Barelli किसानों से वार्ता करने पहुंचे सदर एसडीएम

s

12 गांवों की भूमि अधिग्रहण किए जाने से नाराज किसानों की गुरुवार को एसडीएम सदर से नोंकझोक हो गई। कमिश्नर से मुलाकात करने जाने से पहले इटौआ बाजार में एकजुट हुए किसानों की जानकारी पुलिस ने एसडीएम सदर को दी। जानकारी पर एसडीएम सदर विशु राजा इटौआ बाजार में किसानों के बीच पहुंच गए।
 
यहां पहले तो कुर्सियों पर बैठे किसानों को देख एसडीएम भड़क गए, उन्होंने कहा कि मुझे कुर्सी तक नहीं दी और यहां लोग कुर्सियों पर बैठे हैं। क्या मुझे अपमान करने के लिए यहां बुलाया गया है? इसके बाद आनन-फानन में एसडीएम को कुर्सी पर बैठाया गया और किसानों के साथ वार्ता की। एसडीएम ने किसानों को भरोसा दिलाया कि बीडीए उनकी भूमि का जबरन अधिग्रहण नहीं करेगा।

किसानों ने कहा कि प्रशासन लिखित में दे कि उनकी जमीनें नहीं ली जाएंगी, जिसके लिए उन्होंने लिखित में देने के बजाय मौखिक तौर पर ही भरोसा दिलाया। वहीं किसानों को समर्थन देने पहुंचे पूर्व विधायक शहजिल इस्लाम व सपा नेता मनोहर पटेल ने कहा कि किसानों की जमीनों पर जबरन कब्जा नहीं होंने देंगे और वह किसानों के हक में हर लड़ाई में साथ हैं।

इधर,किसान एकता संघ के प्रदेश प्रभारी रवि नागर ने कहा कि इस बैठक का कोई औचित्य नहीं बनता, जब किसानों को जमीनें देनी ही नहीं हैं, तो लैंड पूलिंग स्कीम या फिर कोई और स्कीम का क्या कोई मतलब ही नहीं बनता है।

Post a Comment

From around the web