Lucknow फिरोजाबाद...शासन की रिपोर्ट में बड़ी लापरवाही

dsv

बुधवार को हुई 2 बच्चों की मौत का कारण डेंगू दर्ज किया गया। लापरवाही बरतने के आरोप में डीएम फिरोजाबाद ने 3 डॉक्टर को सस्पेंड भी कर दिया है। जॉइंट डायरेक्टर डॉ. अवधेश कुमार यादव की अगुवाई में स्वास्थ्य निदेशालय की टीम फिरोजाबाद पहुंची है। फिरोजाबाद में अब तक 44 बच्चों की मौत हुई हैं। शासन को मिली रिपोर्ट में 42 बुखार पीड़ित मरीजों की मौत का कारण अज्ञात लिखा हुआ है। 

रिपोर्ट में बताया गया है कि जिले में लगातार हो रही मौतों पर स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों की बड़ी चूक है। फिरोजाबाद में बुखार के कहर की जांच कर रही लखनऊ से गई टीम ने गुरुवार को अपनी रिपोर्ट शासन को सौंप दी। एक्सपर्ट टीम ने फिरोजाबाद में हो रही मौतों पर बड़ा खुलासा किया है। इसमे प्रभारी चिकित्सा अधिकारी सैलई, डॉ. गिरीश श्रीवास्तव, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ. सौरव और पब्लिक हेल्थ एक्सपर्ट डॉ. रुचि यादव हैं। शासन की रिपोर्ट के बाद जिलाधिकारी चंद्र विजय सिंह ने इलाज में लापरवाही बरतने वाले 3 डॉक्टर्स को सस्पेंड कर दिया है। एक पखवाड़े से पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई जनपदों में बुखार से लोग मर रहे हैं। फिरोजाबाद में अनजान बुखार कहर बरपाता रहा, लेकिन यहां के अफसर हाथ पर हाथ धरे बैठे रहे। बच्चों की मौतें होती रही लेकिन स्वास्थय विभाग के अफसर लीपापोती में लगे रहे। लापरवाही का आलम यह रहा है कि कि 44 बच्चों की मौत में 42 की रिपोर्ट में कारण ही नहीं दर्ज किया गया। ऐसे में पीड़ित परिवारों को पता ही नहीं उनका बच्चा किस बीमारी से मरा है।

मगर, जिले के स्वास्थ्य अधिकारी कई दिनों तक बीमारी से मुंह फेरे रहे। सीजनल वायरल समझकर समस्या को दरकिनार करते रहे। यूपी के फिरोजाबाद-मथुरा में बीते करीब एक सप्ताह से बुखार को तांडव देखने को मिल रहा है। इस जानलेवा बुखार के डेंगू, मलेरिया व बैक्टीरिया कारण भी रहे हैं।इसके बाद फिरोजाबाद के सीएमओ को हटाया गया। इसके बाद जिले के स्वास्थ्य विभाग के अफसरों के कारनामे उजागर हो रहे हैं। ऐसे में हालात बिगड़ते गए। मामला जब सीएम तक पहुंचा तब मुख्यमंत्री ने अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य से रिपोर्ट तलब की। 15 एक्सपर्ट की टीम को मौके पर भेजा। इसमें से बुधवार को 2 बच्चों की मौत के बाद उनमे डेंगू की पुष्टि हुई। वहीं, मथुरा में 26 बुखार के मरीजों में स्क्रब टाइफस मिला। डॉ. जीएस बाजपेयी के मुताबिक अनजान बुखार का कारण डेंगू, मलेरिया, स्क्रबटाइफस, लेप्टोस्पेरोसिस पाया जा रहा है। यूपी के राज्य संचारी रोग निदेशक मेजर डॉ. जीएस बाजपेई के मुताबिक फिरोजाबाद में फिलहाल करीब 250 बुखार पीड़ित अस्पताल में भर्ती है। इस जिले में अब तक कुल 44 मासूमों की मौतें बुखार की वजह से हुईं हैं। 

Post a Comment

From around the web