पापा को रोक खुद बिस्किट लेने गई खुशी, फिर नहीं लौटी

x

उन्होंने बताया कि बुधवार सुबह पत्नी ऊषा ने चाय बनाई थी। पीने से पहले खुशी बोली बिस्किट भी ले आती हूं। अखिलेश ने बारिश के चलते उसे मना किया और कहा कि वह बिस्किट ले आएंगे। खुशी नहीं मानी और खुद बिस्किट लेने चली गई। राकेश मार्ग पर बुधवार को हुए हादसे में जान गंवाने वाली खुशी (11) के माता पिता और दोनों भाई गम में डूबे हैं। पिता अखिलेश ने बताया कि वह बिहार के शिवहर के मूल निवासी हैं और 16 साल से गाजियाबाद में रहकर मजदूरी कर रहे हैं। नम आंखों से अखिलेश बताते हैं कि बेटी उनकी जान बचा कर खुद हमसे दूर चली गई।

इसी बीच लक्ष्मी को एहसास हुआ कि बच्चियों को करंट लगा है। वह अपनी बेटी को छोड़ तेजी से दौड़ा।  नहीं भूल पाऊंगा लक्ष्मी को राकेश मार्ग पर रहने वाले दीपक ने बताया कि वह लक्ष्मी नारायण के साथ उसके घर के बरामदे में बैठे थे। सिमरन और सुरभि को गिरते देख लक्ष्मी ने उन्हें भेजा कि बच्ची को उठा लो। वह दुकान की ओर गए और दी दीपक का कहना है कि लक्ष्मी उनकी जान बचाकर खुद दुनिया छोड़ गया, लेकिन वह उसे कभी नहीं भूल पाएंगे।

स्कूल नहीं जा पाई सुरभि राजकुमार का कहना है कि वह 15 साल पहले जानकी से शादी कर प्रतापगढ़ से गाजियाबाद आए थे। जानकी और सुरभि की मौत के बाद वह इस शहर में अकेले रह गए हैं। सुरभि स्कूल जाने की जिद करती थी। कोरोना के कारण वह ट्यूशन जाती थी। कुछ दिन पूर्व स्कूल खुलने के बारे में सुनकर उसने अपने लिए नया बैग मंगवाया था, लेकिन एडमिशन से पहले ही हादसा हो गया। सुरभि स्कूल नहीं जा पाई। लक्ष्मीनारायण के पिता बद्रीनाथ के आंसू हादसे के बाद से ही नहीं रुक रहे। उन्होंने बताया कि लक्ष्मी किसी भी काम में सबसे आगे रहता था। वहीं सिमरन की मां कृष्णा का भी रो-रोकर बुरा हाल है।

 यहां रहने वाले गोपाल ने बताया कि कल से ही बुरा हाल है। मोबाइल भी डिस्चार्ज पड़ा है। हादसे के बाद मोहल्ले में गमगीन माहौल है। मृतकों के घरों में दूसरे दिन भी चूल्हा नहीं जला। स्वजन ने हरनंदी घाट से अस्थियां लेकर विसर्जित कीं। बिना बिजली के रह रहे छह परिवार जिस दुकान के कारण हादसा हुआ था, उसके साथ वाले मकान का भी कनेक्शन काटकर विद्युत विभाग की टीम ने केबल हटा दी थीं। इस मकान में छह परिवार किराये पर रहते हैं। बुधवार से ही ये छह परिवार हादसे के बाद से बिना विद्युत आपूर्ति के रह रहे हैं।

Post a Comment

From around the web