Gaziabad घरों, सड़कों के साथ स्कूलों में भी भरा पानी, जलनिकासी की व्यवस्था पर उठे सवाल

ds

जिस कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। नगर निगम की टीम जलनिकासी के लिए तीन शिफ्टों में लगाई गई है।  शहर में बृहस्पतिवार सुबह बारिश होने के कारण सोसायटियों, कालोनियों से लेकर सड़कों पर जलभराव हो गया। मुख्य मार्गाें पर जलभराव होने के कारण वाहन चालकों को भी परेशानी का सामना करना पड़ा। जिस कारण स्कूल गेट पर ताला लगा दिया गया है। कब्रिस्तान और अंत्येष्टि स्थल पर भी जलभराव: बारिश के कारण हिडन विहार स्थित कब्रिस्तान और हरनंदी नदी के किनारे बने अंत्येष्टि स्थल पर भी जलभराव हो गया।  एएलटी फ्लाइओवर के पास ही मेरठ रोड के पास जलभराव होने के कारण दो दिन से दुकानें बंद है। यहां पर इतना पानी था कि बच्चे स्कूल के अंदर प्रवेश भी नहीं कर सकते। नाले का पानी स्कूल के अंदर भर गया है,  दुकानदार परेशान होकर अब दूसरी जगह दुकान खोलने की तैयारी कर रहे हैं। सुदामापुरी, शंकरपुरी गोविदपुरम, पटेलनगर, चिरंजीव विहार, शांतिनगर, सैन विहार और शिवपुरी में जलभराव के कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। स्कूल में भरा पानी: मेरठ रोड पर श्री सरस्वती विद्या मंदिर हायर सेकेंडरी स्कूल में जलभराव हो गया। यहां पर शव को जलाने के लिए जो प्लेटफार्म बनाए गए हैं, वह भी टूटे हुए हैं। जिस कारण शव दहन करने में भी परेशानी हुई। जिस कारण 10 से अधिक वार्ड में जलभराव की समस्या होती है। बयान जलनिकासी के लिए टीमें लगी हैं। दो दिन बारिश ज्यादा होने के कारण जलभराव हुआ है। समस्या के स्थायी समाधान के लिए भी प्रयास किए जा रहे हैं। - योगेश श्रीवास्तव, महाप्रबंधक, नगर निगम अतिक्रमण और नालों का लेवल ठीक न होने से समस्या: शहर में जलभराव की मुख्य वजह नालों के ऊपर अतिक्रमण किया जाना और उनका लेवल ठीक न होना है। नगर निगम द्वारा बनाए गए नाले अब एनएच-नौ में मिल गए हैं, 

Post a Comment

From around the web