एयरपोर्ट तक मेट्रो दौड़ाने के लिए नौ माह में बनेगी डीपीआर

x

नई दिल्ली के शिवाजी स्टेडियम मेट्रो स्टेशन से जोड़ने के लिए फिजिबिलिटी स्टडी के लिए अधिकारियों में सहमति बन गई। इसके अनुबंध पर भी हस्ताक्षर किए गए। डीएमआरसी नौ माह में रिपोर्ट तैयार कर यीडा को सौंपेगी।  ग्रेटर नोएडा। परी चौक से नोएडा एयरपोर्ट तक मेट्रो दौड़ाने और दिल्ली मेट्रो से कनेक्टिविटी के लिए बृहस्पतिवार को एक कदम और बढ़ गया। यमुना प्राधिकरण और दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) के अधिकारियों ने यीडा कार्यालय पर डिटेल्ड प्रोजक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार करने के लिए अनुबंध पर हस्ताक्षर किए। वहीं,इसके बाद अन्य औपचारिकताएं पूरी करने के बाद मेट्रो रूट के विकास का कार्य शुरू होगा।

परी चौक से नोएडा एयरपोर्ट तक बनने वाला 35.64 किमी लंबा मेट्रो रूट दिल्ली एयरपोर्ट मेट्रो की तरह ही एक्सप्रेस लाइन होगी। दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट से जोड़ने के लिए कोई अलग रूट नहीं बनाया जाएगा। इसके लिए अधिकारियों में सहमति बन गई है। यीडा कार्यालय पर अनुबंध पर हस्ताक्षर के दौरान यीडा के सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह, विशेष कार्याधिकारी शैलेंद्र भाटिया, डीएमआरसी के व्यापारिक विकास निदेशक प्रमीत गर्ग, सलाहकार जीएम आरजी शर्मा, प्रोजेक्ट निदेशक महेश आदि मौजूद रहे।

परी चौक से एयरपोर्ट तक मेट्रो रूट पर शुरुआत में 25 स्टेशन बनाने का प्रस्ताव था, लेकिन बाद में इसे घटाकर पांच या छह किया गया। अब इसे सीधा दिल्ली से जोड़ने की योजना पर काम किया जा रहा है। ऐसे में डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार होने के बाद ही यह स्पष्ट होगा कि परी चौक से एयरपोर्ट तक कितने मेट्रो स्टेशन होंगे, लेकिन मेट्रो रूट के सीधे दिल्ली से जुड़ने से एयरपोर्ट से दिल्ली जाने और दिल्ली से एयरपोर्ट आने वाले यात्रियों को काफी सुविधा मिलेगी। वह काफी कम समय में सफर तय कर सकेंगे।डीपीआर नौ माह में तैयार होगी। इस रूट को दिल्ली के शिवाजी मेट्रो स्टेशन से जोड़ने के लिए डीएमआरसी फिजीबिलिटी स्टडी भी करेगी। परी चौक से नोएडा एयरपोर्ट तक मेट्रो रूट के लिए डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाने के अनुबंध पर डीएमआरसी के अधिकारियों के साथ हस्ताक्षर किए गए हैं। 
 

Post a Comment

From around the web