Gaziabad डेंगू के 37 संदिग्ध मरीजों की आई रिपोर्ट, पांच की पुष्टि

x
इनमें से 20 निजी और 17 सरकारी अस्पतालों में मिले हैं। बृहस्पतिवार को सभी की जांच रिपोर्ट आने पर डेंगू के पांच मरीजों की पुष्टि हुई है। इनमें एक नोएडा और एक बुलंदशहर का केस हैं। गाजियाबाद: कोरोना के बीच डेंगू और मलेरिया ने दस्तक दे दी है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट में पता चला है कि पंद्रह दिन में डेंगू के 37 संदिग्ध मरीज मिले हैं।  तीन गाजियाबाद के केस हैं। जापानी बुखार की जांच शुरू हो गई है। इंदिरापुरम, वसुंधरा, वैशाली, राजेंद्रनगर, खोड़ा, प्रताप विहार, नंदग्राम,नेहरूनगर और अकबरपुर बहरामपुर हैं। मानकी, नंगला अटौर, मोहनपुर फिरोजपुर, मथुरापुर, कलछीना, नंगला बेर, नहाली, महमूदपुर आमद, अलीपुर और मीरपुर शामिल हैं। इनमें से 32 मरीजों को भर्ती भी किया गया। 12 बच्चे शामिल हैं। वायरल के औसतन 435 मरीज रोज ओपीडी में पहुंच रहे हैं। रोज ढाई सौ मरीजों की मलेरिया और 25 मरीजों की डेंगू की जांच कराई जा रही है। सीएमएस डॉ. अनुराग भार्गव ने बताया कि ओपीडी में इन दिनों दो हजार से अधिक मरीज आ रहे हैं। इनमें से वायरल के केस अधिक मिल रहे हैं। सभी की डेंगू, मलेरिया एवं कोरोना जांच कराई जा रही है। निजी और सरकारी अस्पतालों की ओपीडी में डेंगू के संदिग्ध मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अब तक डेंगू के 37 संदिग्ध मरीजों के सैंपल जांच के सापेक्ष पांच की रिपोर्ट में डेंगू की पुष्टि हुई है। वायरल के केस बढ़ने से डेंगू और मलेरिया के सैंपल लेने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। शुक्रवार से डेंगू के लार्वा की जांच के लिए डोर टू डोर सर्वे होगा। जांच के बाद तुरंत नोटिस सौंपा जाएगा। - डॉ. ज्ञानेंद्र कुमार मिश्रा, जिला मलेरिया अधिकारी अगस्त में वायरल के पंद्रह हजार मरीज ओपीडी में पहुंचे जिला एमएमजी अस्पताल की ओपीडी में एक से 31 अगस्त के बीच वायरल बुखार के 15,432 मरीज पहुंचे। 

Post a Comment

From around the web